Sunday, 1 January 2012

नव वर्ष 2012

हे नवजात शिशु ,हे अबोध बालक ....
इस सृष्टि में है तुम्हारा स्वागत 

अभी नन्हे से तुम बालक हो 
आओ   तुम्हे   दुलार   दूँ  मैं

भर   दूँ    झोली उपहारों से 
माथा स्नेह से पुचकार दूँ मैं 

सृष्टि  की बगिया में तुम फूलो -फलों
 सुख पाकर विकसित  हो जाओ 

सब की झोली भरो खुशियों से 
सब   का    प्रेम   पा मुस्काओ 


सब शांत सुखी सम्पन्न  रहे 
तुम पर भी होगी ये जिम्मेदारी 

आओ हम सब मिल जुल कर 
नए  साल का आदर सत्कार करें 


दुःख अपनों के हम  सारे ले लें और 
सब के मन में स्नेह  और प्यार भरे 








 

14 comments:

  1. आपको नव वर्ष 2012 की हार्दिक शुभ कामनाएँ।

    सादर

    ReplyDelete
  2. बहुत सुंदर...आप को सपरिवार नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  3. प्रस्तुति अच्छी लगी । मेरे नए पोस्ट पर आप आमंत्रित हैं । नव वर्ष की अशेष शुभकामनाएं । धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  4. वाह! सुन्दर,अनुपम लाजबाब प्रस्तुति.
    बहुत बहुत शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  5. नव वर्ष पर सार्थक रचना
    नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.

    शुभकामनओं के साथ
    संजय भास्कर
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    ReplyDelete
  6. कल 02/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  7. आशावादी सुन्दर गीत के लिये बधाई एवं नव वर्ष की हार्दिक
    शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  8. आशाओं के नव कोंपल प्रस्फुटित हो रहे हैं आपके इस सुन्दर स्वागत गीत में.... शुभ कामनाएं अपार ...हार्दिक आभार

    ReplyDelete
  9. नव वर्ष की हार्दिक
    शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  10. नव वर्ष पर सार्थक रचना
    नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  11. सर्वे भवन्तु सुखिनः ...की बात को रेखांकित करता गीत...सुन्दर!!
    आपको नववर्ष की शुभकामनायें!!

    ReplyDelete
  12. बहुत सुन्दर अवंती जी...
    नववर्ष शुभ हो...

    ReplyDelete