Wednesday, 16 October 2013

मोटापे से हैं परेशान?



मोटापा कम करने के हजारों उपाय आप ने पढ़े -सुने होंगें पर सब से सरल उपाय  है ये जानना के मोटापा बढ़ता क्यों है,मेडिकल की भाषा में समझे तो आवश्यकता से अधिक कैलेरी   लेने के कारण मोटापा बढने लगता है,जो व्यक्ति baithe रहते है अधिक काम नहीं karte और जिनकी aayu  बढ़ गईहै उन्हें दिन मे१२०० से लेकर १५०० कैलेरी की आवश्कता होती है,अधिक भागदोड़ करने वालेलोगों को ,बच्चों को,नवयुवको  को२००० से २५०० कैलेरी  की आवश्यकता होती है ,आइये  अब जानते है किस चीज में कितनी कैलेरी  होती है

सामान्य आकार की रोटी =  लगभग १०० कैलेरी
एक कटोरी  दाल/सब्जी  =    "        १०० कैलेरी
एक कप  चाय               =    "       १००  कैलेरी
एक कप काफी              =    "        २००  कैलेरी
 एक कटोरी पनीर की  या अधिक  आयल में बनी कोई भी  सब्जी                         =   "        ३०० से ५०० कैलेरी
एक कटोरी खीर            =  "        ५०० से  ६०० कैलेरी
एक समोसा /कचोरी       =  "        २०० से २५० कैलेरी
सेब/ संतरा/ अमरुद/ सामान्य आकार का १०० कैलेरी
केला १५० से२०० कैलेरी
बीन्स फली की सब्जी एक कटोरी ६० कैलेरी
एक कटोरी (सामान्य आकार) चावल १०० से १५० कैलेरी
१०० ग्राम  बिस्किट या नमकीन ४०० से ५०० कैलेरी
पूरी छोले की एक प्लेट ५०० से ६०० कैलेरी
हरा सलाद एक प्लेट १०० से १५० कैलेरी

इस प्रकार आप हिसाब लगा सकते है के आप ने दिन  भर में कितनी कैलेरी खाई  है अगर आप का वजन बढ़ गया है तो १२०० से१५०० तक कैलेरी खाइए हर महीने आप का वजन २ किलो तक कम हो जायेगा (खुद आजमाया हुआ नुस्खा ,निश्चिन्त रहें वजन जरुर कम होगा   :) वजन कम हो तो बताइयेगा जरुर )  विशेष =सुबह शाम  आधा घंटा सैर  करने जरुर जाएँ

  (अवन्ती सिंह )

7 comments:

  1. आपकी इस प्रस्तुति की चर्चा 17-10-2013 को
    चर्चा मंच
    पर है ।
    कृपया पधारें
    आभार

    ReplyDelete
  2. नमस्कार आपकी यह रचना वृहस्पतिवार (17-10-2013) को ब्लॉग प्रसारण पर लिंक की गई है कृपया पधारें.

    ReplyDelete
  3. अच्छी जानकारी ... आसान तरीका पतले होने का ...

    ReplyDelete
  4. जी जरुर पहुचुंगी चर्चामंच पर शुक्रिया,आपसब का हार्दिक धन्यवाद ....

    ReplyDelete
  5. सार्थक पोस्ट दीदी। हालाँकि पाश्चात्य जगत इन चीज़ों का बहुत ख्याल रखता है, हम अपने देश में आज भी इन तथ्यों से अवगत नहीं हैं, और फलस्वरूप ऐसी बीमारियों के शिकार होते हैं। ये जानकारी फैलाना नितांत आवश्यक है।

    ReplyDelete
  6. प्रिय ब्लागर
    आपको जानकर अति हर्ष होगा कि एक नये ब्लाग संकलक / रीडर का शुभारंभ किया गया है और उसमें आपका ब्लाग भी शामिल किया गया है । कृपया एक बार जांच लें कि आपका ब्लाग सही श्रेणी में है अथवा नही और यदि आपके एक से ज्यादा ब्लाग हैं तो अन्य ब्लाग्स के बारे में वेबसाइट पर जाकर सूचना दे सकते हैं

    welcome to Hindi blog reader

    ReplyDelete